How to become an IAS officer in Hindi

Welcome to Top Sarkari Result प्रत्येक वर्ष Union Public Service Commission (UPSC) द्वारा India Civil Service Exam परीक्षा आयोजित की जाती है इसमें 800 से 1000 तक पद होते हैं। आइये How to become IAS officer को Step by Step समझते है।

how-to-become-an-ias-officer-in-hindi

प्रत्येक भारतीय जिसने  किसी भी विषय में किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय या संस्थान से सनातक  की डिग्री प्राप्त की हो और उसकी आयु 21 से 32 वर्ष हो (Eligibility IAS Civil Service Exam) वह यह परीक्षा देकर IAS बन सकता है।

3 Steps How to become an IAS officer in Hindi

3-steps-how-to-become-an-ias-officer-in-Hindi

प्रत्येक वर्ष लाखों युवा सिविल सर्विस के लिए परीक्षा देते हैं किंतु इनमें से केवल 100 से 150 लोग IAS बन पाते है। इस बात से आप अंदाजा लगा सकते हैं हैं की IAS बनने के लिए कड़ी मेहनत और लग्न की आवश्यकता होती है। UPSC Syllabus और Exam Pattern को समझने के बाद IAS परीक्षा के लिए 3 चरणों से होकर गुजर ना पड़ता है जो इस प्रकार है:- (1) UPSC Prelims (2) UPSC Mains (3) UPSC Personality Test (Interview).

यदि आप इन तीनों चरणों को पास कर लेते हैं और 1 से 100 के बीच में Rank  हासिल कर लेते हैं  तो आप एक IAS OFFICER बन जाते हैं।

प्रतिवर्ष UPSC विभिन्न सेवाओं और पदों जैसे IAS, IPS, IFS, IRS, Railway Service etc. 25 प्रकार की  सेवाओं के लिए  UPSC Civil Service Exam आयोजित करती है जिसमें लाखों युवा भाग लेते हैं किंतु सेवाओं और पदों का चयन उम्मीदवारों की RANK पर आधारित होता है।

प्रत्येक युवा की पहली पसंद भी IAS बनना ही होता है जिसके पीछे  सबसे बड़ा कारण है IAS Officer की सामाजिक प्रतिष्ठा, Power और मिलने वाली बेहतरीन सुविधाएं और अच्छी Salary.

अब आपका सबसे पहला प्रश्न होगा एक IAS अधिकारी के पास कौन-कौन से अधिकार, शक्तियां (Powers) होती हैं?

Powers of an IAS officers

power-of-IAS-officers

एक IAS officer के पास बहुत सारे Powers होती है, इनकी Powers का अंदाजा हम इस बात से लगा सकते है की किसी राज्य का मुख्यमंत्री या मंत्री भी किसी IAS अधिकारी को नौकरी से नहीं हटा सकता केवल उसका Transfer करा सकता है।

भारत में मंत्रियों के बाद यदि किसी की सबसे अधिक POWER है तो वह है एक IAS officer. Central Government और State Government के different Departments में High Level Posts पर IAS officers ही नियुक्त होते हैं।

देश को सुचारू रूप से चलाने के लिए IAS officers बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं इसी कारण इन्हें बहुत Powers प्रदान की गई है:-

1. District Magistrate (DM) Level Powers of IAS officers

  1. प्रत्येक जिले का Head District Magistrate यानी के (D.M.) होता है, इसे हम District Collector के नाम से भी जानते हैं। DM के रूप में IAS officer को बहुत Powerful माना जाता है।
  2. DM के रूप में एक IAS officer, Police Department के साथ साथ अन्य Departments का भी Head होता है।जैसे:- Revenue, Health, Education, Labour etc.
  3. जिले में होने वाले Development Work के लिए Funds का Allotement भी D.M ही करता है यदि उसे किसी भी कार्य में गड़बड़ी लगती है तो वह उस कार्य को करने वाले Contractor का Contract भी रद्द कर सकता है।
  4. District की पुलिस व्यवस्था की जिम्मेदारी भी DM के पास ही होती है। शहर में curfew, 144 इत्यादि Law and Order से जुड़े सभी Decision DM ही लेता है। भीड़ पर Firing का आर्डर भी DM ही देता है।

2. Chef Secratry Level Powers of IAS officers

  1.  State Government में नौकरशाही का सबसे बड़ा पद Chef Secratry का होता है जो एक IAS Officer ही होता है जो सीधे मुख्यमंत्री को रिपोर्ट करता है।
  2.  State Government के सभी नौकरशाहों का मुखिया Chef Secratry होता है जो एक IAS Officer है। 

3. Cabinet Secraty Level Powers of IAS officers

  1. Central Government में सबसे उच्च पद Cabinet Secraty का होता है जो पूरे भारत में एक ही होता है और वह सीधे प्रधानमंत्री को रिपोर्ट करता है, भारत में प्रधानमंत्री के बाद सबसे अधिक पावर Cabinet Secratry की होती है।

4. Other Powers of IAS officers

  1. एक IAS officer Government और Public के बीच समन्वय बनाने का कार्य भी करता है।
  2. Public के लिए Governement द्वारा बनाए गए Rules & Regulations को Public तक पहुंचाने और सुचारु रुप से लागू कराना तथा क्रियान्वित  रूप देना एक IAS officer का कार्य है।
  3. एक IAS अधिकारी के अंतर्गत आने वाले विभागों के कर्मचारी यदि अपना कार्य सुचारू रूप से नहीं करते है तो वह उन पर  कार्यवाही कर सकता है तथा उन्हें निलंबित भी कर सकता है।
  4. एक IAS अधिकारी कभी भी किसी भी विभाग की जांच कर सकता है तथा गड़बड़ी पाए जाने पर  उस पर कार्यवाही के आदेश दे सकता है।

5 Level Resposibility & Duties of IAS officer

Duties-of-IAS-officer

1. Sub-Divisional Level Resposibility & Duties of IAS officer

एक IAS officer को Starting Career में Sub-Divisional Magistrate Appoint किया जाता है। SDM Level पर IAS officer की Primary Responsibility अपने allotted Jurisdiction में General Administrative and Developmental Work देखना और Law & Order maintain रखना होता है।

2. District Level Resposibility & Duties of IAS officer

Sub-Divisional Magistrate के बाद IAS officer Promote होकर District Magistrate बनते है जिसे D.M. भी कहा जाता है। Divisional Magistrate Level पर IAS अधिकारी की Powers और Responsibility समान होती है।

3. State Level Resposibility & Duties of IAS officer

District Magistrate के बाद IAS officer Promote होकर State Level Administration बनते है जिसे Bureaucrat in State Secretariat or Head of Departments भी कहा जाता है। State Level Administration की Post पर एक IAS officer का Work Profile अपने Field Level Experience के आधार पर Elected Executives को Policy Formation से सम्बंधित Advice देना होता है।

4. In Public Sector Undertakings Resposibility & Duties of IAS officer

IAS officers को Government Public Sector Undertakings यानि PSUs में High Level Administrative positions पर नियुक्त किया जाता है और उन्हें यह ज़िम्मेदारी दी जाती है ताकि PSUs का संचालन भली प्रकार से हो सके।

5. Central Level Resposibility & Duties of IAS officer

Central Level पर IAS officers को Central Government द्वारा भिन्न भिन्न प्रकार के High-Level Respectful Posts पर appoint किया जाता है जैसे Cabinet Secretary, Secretary, Additional Secretary, Joint Secretary, Director, Deputy Secretary and Under Secretary. 

इन सभी पदों पर उन्हें ज़िम्मेदारी दी जाती है कि Finance, Defence, Commerce और different Ministries में Governmental Policies को पूर्णतः ईमानदारी से implement किया जाएं।

IAS Officer Salary Scale & Designation

 Pay LevelBasic Pay(INR)Number of years required in servicePost
(District Administration)
Post
(State Secretariat)
Post
(Central Secretariat)
1056,100/-1-4Sub-Divisional Magistrate(SDM)UndersecretaryAssistant Secretary
1167,700/-5-8Additional District Magistrate(ADM)Deputy SecretaryUndersecretary
1278,800/-9-12District Magistrate (DM)Joint SecretaryDeputy Secretary
131,18,500/-13-16District Magistrate (DM)Special Secretary-cum-DirectorDirector
141,44,200/-16-24Divisional CommissionerSecretary-cum-CommissionerJoint Secretary
151,82,200/-25-30Divisional CommissionerPrincipal SecretaryAdditional Secretary
162,05,400/-30-33No Equivalent RankAdditional Chief SecretaryNo Equivalent Rank
172,25,000/-34-36No Equivalent RankChief SecretarySecretary
182,50,000/-37+ yearsNo Equivalent RankNo Equivalent RankCabinet Secretary of India

The Dearness Allowance (DA) is fixed at 0% for IAS officers starting their career and increases with time.

The salaries of all IAS officers start at the same level and then increase with their tenure and promotions.

UPSC Frequently Asked Questions (FAQ)

What is IAS officer full form?

Indian Administrative Service (I.A.S) officer.

Who was the first women IAS officer?

Anna Rajam Malhotra India की First Indian Administrative Service (IAS) officer थी। उनका Selection 1951 के Batch से हुआ था।

Who was the first IAS officer of india?

Satyendranath Tagore First Indian थे जिन्होंने 21 साल की उम्र में सन 1863 में ICS(Indian civil Services) Exam Clear किया था। वह Rabindranath Tagore के बड़े भाई थे।

Who is the youngest IAS officer in India?

Ansar Ahmad Shaikh India के Youngest IAS officer है। उन्होंने 21 साल की  उम्र में UPSC CSE 2016 Clear किया जिसमे उनकी Rank AIR-361 थी।

Who is the father of Indian Civil Services?

Charles Cornwallis.

Also Read

Leave a comment